श्रीगंगानगर,दलित,गरीब,परिवार,बेटी,बनी,आईएएस,रेलवे,पटरियों,झोपड़ियों,पूजा

गरीब दलित की बेटी बनी आईएएस- सोशल मीडिया पर हो रही वायरल

इरादे नेक हों तो सपने भी साकार होतें हैं लगन और कड़ी मेहनत से सबकुछ मुमकिन है, एक लड़की जिसका बचपन में ही सिर से पिता का साया उठ गया मां ने मजदूर कर इस बेटी को पढ़ाया गरीब दलित परिवार की एक बेटी के आईएएस  बनने का समाचार सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

रेलवे पटरियों के पास बनी झोपड़ियों में रहकर पढ़ने वाली  पूजा नायक के बारे मे लोग जानने को उत्सुक हैं। श्रीगंगानगर में एक गरीब परिवार की लड़की आईएस अफसर बन गयी है। आईएएस में चयनित होने पर उसके गावों में ख़ुशी का माहोल है और हर तरफ उस लड़की के ही चर्चे हो रहे है। इस लड़की ने अपनी महनत और लगन से ये साबित कर दिया कि कैसे अपने सपनों को पूरा किया जा सकता है।

पूजा नायक का चयन आईएएस में हो गया है। पूजा बहुत ही गरीब परिवार से है। पूजा की तीन  बहने ओर एक भाई है, जो फिलहाल बेरोजगार है। पूजा के पिता की मौत 17 साल पहले ही हो गयी थी, तब वह महज 4 साल की थी मां ने मजदूरी कर पढ़ाया पूजा की 3 बहने और एक बेरोजगार भाई है। पूजा के घर में बिजली नहीं थी। खम्भो की ट्यूबलाइट में की पढ़ाई कर पूजा आईएएस बनीं।

 

Comments

comments